Monday, 8 November 2010

समृद्ध भारतीय कला की झलक देख मिशेल दंग

अमेरिका की प्रथम महिला मिशेल ओबामा ने सोमवार सुबह यहां राष्ट्रीय हस्तशिल्प एवं हथकरघा संग्रहालय का भ्रमण कर भारत के समृद्ध वस्त्रों, कला व शिल्प की झलक देखी।
राजघाट में महात्मा गांधी की समाधि पर सुबह श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद मिशेल प्रगति मैदान परिसर स्थित संग्रहालय में आठ गाड़ियों के काफिले के साथ पहुंची, जबकि उनके पति व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबमा प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से चर्चा के लिए हैदराबाद हाउस रवाना हुए।
संग्रहालय की निदेशक रुचिरा घोष ने मिशेल को भारतीय पारम्परिक वस्त्रों, ग्रामीण हस्तशिल्प और कला से सजे गलियारों का भ्रमण कराया।  मिशेल ने पश्चिम बंगाल की पटचित्र कला, पंजाब की फुलकारी, कर्नाटक की फूसा कला, जम्मू एवं कश्मीर की दुशाला शालें और हिमाचल प्रदेश की शिल्पकला देखी।
इस अवसर पर देश की करीब 20 महिला शिल्पकारों ने अपने-अपने हुनर का प्रदर्शन किया। मिशेल भारतीय शिल्प की समृद्ध विरासत देखकर प्रभावित थीं। उन्होंने जीविकोपार्जन के लिए हस्तशिल्प की वस्तुएं बनाने वालीं एक गैर सरकारी संगठन की 15 लड़कियों से बातचीत भी की।
संग्रहालय सूत्रों ने बताया कि उन्होंने बालिकाओं के कल्याण में विशेष रुचि दिखाई। उन्होंने भारतीय कला और शिल्प की विरासत के संबंध में और अधिक जानने के प्रति रुचि दिखाई। यह संग्रहालय आमतौर पर सोमवार के दिन बंद रहता है, लेकिन मिशेल के लिए इसे खुला रखा गया।

No comments:

Post a Comment