Monday, 8 November 2010

दिवाली जश्न में थिरके बराक और मिशेल

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और उनकी पत्नी मिशेल ओबामा रविवाो यहाँ एक स्कूल के दिवाली के जश्न में शरीक हुए और एक मराठी लोकगीत पर स्कूली बच्चों के साथ थिरकते नजर आए।

अमेरिकी राष्ट्रपति और प्रथम महिला ने अपनी भारत यात्रा के दूसरे दिन की शुरुआत दक्षिण मुंबई के कोलाबा स्थित होली नेम हाई स्कूल से की जहाँ बच्चों के एक समूह ने दंपती के समक्ष सांस्कृतिक कार्यक्रम की पेशकश दी।

ओबामा के दीप प्रज्ज्वलन करने के बाद स्कूल में दीपावली उत्सव की शुरुआत हुई। विद्यार्थियों ने भारतीय पारंपरिक परिधानों में ओबामा और मिशेल का स्वागत किया। दोनों ने बच्चों से बात की, उनसे हाथ मिलाये और साथ में तस्वीरें भी खिंचवाईं। विद्यार्थियों को अपने मोबाइल फोन के कैमरे से दंपती की तस्वीरें उतारते देखा गया।

मराठी लोकनृत्य शैली ‘कोली’ की धुन पर ओबामा दंपती ताल देते और तालियाँ बजाते देखे गए। कुछ देर बाद दोनों नृत्य कर रहे विद्यार्थियों में शामिल हो गए और उनके साथ थिरके भी। यह लोकनृत्य महाराष्ट्र के मछुआरों के समुदाय की सांस्कृतिक पहचान है।

सबसे पहले मिशेल बच्चों के बीच गई और उन्होंने बच्चों की शैली में हू-ब-हू नृत्य करने की कोशिश की। बाद में बच्चे ओबामा को भी नृत्य करने के लिए खींच लाए। फिर दंपती ने बच्चों के साथ कई तस्वीरें खिंचवाईं और ऑटोग्राफ दिए।

कॉरपोरेट मामलों के मंत्री और ओबामा के लिए ‘मिनिस्टर इन वेटिंग’ सलमान खुर्शीद को अमेरिकी राष्ट्रपति को इस पेशकश के महत्व के बारे में बताते देखा गया।

सफेद कमीज और गहरे रंग की पतलून पहने आए 49 वर्षीय ओबामा ने आस्तीन चढ़ाईं और नृत्य किया। बाद में उन्होंने तस्वीरें खिंचवाईं। यहाँ तक कि शिक्षकों ने भी 46 वर्षीय मिशेल से ऑटोग्राफ माँगे। मिशेल ने गुलाबी रंग का टॉप और चेक स्कर्ट पहन रखा था।

मिशेल काफी धैर्य से ‘कोली’ नृत्य देख रही थीं और उन्होंने बच्चों के साथ नृत्य शैली को सीखने की भी कोशिश की। वहीं, ओबामा को नृत्य शैली के साथ सहज होने में थोड़ा ही वक्त लगा। जिस हॉल में यह कार्यक्रम हो रहा था वह ताजा फूलों और पत्तियों से सजाया गया था।

नृत्य करने वाले एक विद्यार्थी ने बाद में कहा कि ओबामा को नृत्य पसंद आया और उन्होंने इसे आकर्षक, अच्छा और सुंदर करार दिया। वह हमारे साथ थिरके और उन्होंने कोली तथा दीया नृत्य भी किया

No comments:

Post a Comment